Senior Citizens Savings Scheme (SCSS) क्या है?

क्या आपको पता है Senior Citozens Savings Scheme (SCSS) के बारे मे? अगर जवाब ना है तो आज हम आपको इसके बारे मे विस्तार से बताने जा रहे हैं की किस तरह यह saving scheme आपके बुढ़ापे का सहारा बन सकती है, कैसे आप अपनी वृद्धावस्थाको संवार सकते हैं।

तो क्या है सीनियर सिटिज़न सेविंग स्कीम (SCSS), क्या लाभ हैं इसके और कौन इसका लाभ ले सकता है, आइये जानते हैं।

क्या है Senior Citizens Savings Scheme?

यह सेविंग स्कीम उन लोगों के लिए है जो अपनी 60 साल की उम्र पूरी कर चुके हैं। अगर आपकी उम्र 60 साल है तो आप भी इसमे अपना पैसा लगा सकते हैं। भारत का कोई भी 60 साल की उम्र पार करने वाला नागरिक इस स्कीम मे अपना पैसा लगा सकता है।

रिटायर्ड होने के बाद बुढ़ापे मे हमने जो पैसा कमाया है उसे सही जगह कहाँ और कैसे लगाएँ ये सबसे बड़ा सवाल होता है। कहाँ आपको ज्यादा फायदा हो सकता है और बेहतर return मिल सकता है। Sernior Citizens sevings scheme ऐसी ही एक खास स्कीम है जो की आपको देगी पैसे की सुरक्षा और बेहतर व्याज दर।

क्या योग्यता है SCSS के लिए

भारत का हर नागरिक जो अपनी 60 साल की उम्र सीमा पार कर चुका है वो इस स्कीम का लाभ उठा सकता है।

  • सीनियर सिटिज़न जो 60 साल की उम्र पार कर चुके हैं।
  • Defence से रिटायर्ड हुआ व्यक्ति 50 साल की उम्र मे इसमे अपना पैसा इन्वेस्ट कर सकता है।
  • बाहरी देश का व्यक्ति NRI इसका लाभ नहीं ले सकता।

कहाँ खोल सकते हैं अकाउंट?

आप किसी भी पोस्ट ऑफिस या चुनिन्दा बैंक मे जाकर SCSS account खोल सकते हैं। इन चुनिन्दा बैंक मे SBI, ICICI, Bank of baroda, Canara Bank, Bank of India, IDBI Bank, Andhra Bank, Allahabad Bank, Indian Bank, Dena bank, UCO Bank, Vijaya Bank, Central Bank of India, Syndicate bank, Union Bank of India आदि सारी सरकारी बैंक शामिल हैं।

कितना पैसा Invest कर सकते हैं?

SCSS मे आप अधिकतम 15 लाख जितनी रकम इन्वेस्ट कर सकते हैं, इस से ज्यादा नहीं। खाता खुलने के बाद आप 1000 भी जमा कर सकते हैं और 1 लाख से ज्यादा भी। अगर रकम 1 लाख से नीचे है तो आप Cash मे जमा कर सकते हैं और अगर 1 लाख से ज्यादा की रकम है तो आप चेक दे सकते हैं।

समय अवधि क्या है?

इस स्कीम की समय मर्यादा 5 साल है और 5 साल पूरा होने के बाद आप अपना पैसा व्याज के साथ प्राप्त कर सकते हैं। आप चाहे तो 5 साल पूरी होने के बाद 3 साल के लिए और समय अवधि की बढ़ा (renew)सकते हैं, इसकी सुविधा भी दी गयी है।

इसका मतलब यह हुआ की इस 5 साल की समय अवधि मे आप 15 लाख तक जमा कर सकते हैं। आप अपनी क्षमता के हिसाब से पैसा डिपॉज़िट कर सकते हैं।

5 साल पूरे हो जाए और आपका मन अवधि बढ़ाने का है तो आप 3 साल के लिए और अपनी पूंजी को संजोकर रख सकते हैं।

व्याज-दर  कितनी मिलेगी?

Senior Citizens savings scheme मे आपको सालाना 8.60% की व्याज-दर मिलती है। यह व्याज दर किसी भी अन्य स्कीम से ज्यादा है। हर तीन महीने के बाद (Quartly)जो भी व्याज दर है उस हिसाब से व्याज की रकम आपके खाते मे जमा होती रहती है।

समय अवधि से पहले खाता बंद करने की सुविधा

अगर किसी कारणवस आपको अपना SCSS खाता बंद करना है और अभी 5 वर्ष की अवधि पूरी नहीं हुई है तो आप खाता 1 साल के बाद ही बंद करा सकते हैं और पैसा वापस ले सकते हैं, उस से पहले नहीं।

इसी प्रकार 1 वर्ष पूरी होने के बाद अगर दूसरा वर्ष भी पूरा होने वाला है तो ऐसी परिस्थिति मे आपको 1.5% charge लग सकता है और अगर 2 साल के बाद आप खाता बंद करते हैं तो 1% चार्ज आपको लग सकता है।

SCSS Account कैसे खोलें?

आप किसी भी Post Office या सरकारी बैंक मे जाकर अपना SCSS account खोल सकते हैं।

  • खाता खोलने के लिए आपको Form A भरना होगा।
  • ID Proof मे PAN Card, Aadhaar Card, election Voter card या passport पर्याप्त है।
  • Address proof मे Aadhar, Voter card, light bill, passport आप ले जा सकते हैं।
  • Birth date proof के लिए आधार कार्ड, passport, Voter card
  • 2 Passport size photograph
  • आप Nomination के तौर पर अपने किसी नजदीकी व्यक्ति को रख सकते हैं, उसकी सुविधा भी है।

Overall Senior Citizens Savings Scheme एक बहुत अच्छी स्कीम है 60 साल के व्यक्ति के लिए, इसमे आपका पैसा सुरक्षित तो रहेगा ही, साथ ही साथ एक अच्छी व्याज दर भी आपको मिलेगी जो आगे चलकर आपका सहारा बन सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here